What is insurance

What is insurance in Hindi? – Types of Insurance

What is insurance, how is it?

किसी भी प्रकार का बिमा लेने से हम किसी भी नुकसान की स्थिति से निपटने में सक्षम महसूस करते हे और खुद को secure महसूस केर पाते हे। हमें ये नहीं पता की कल हमारे साथ क्या होगा, कल हमारा दिन अच्छा होगा की नहीं इसलिए हमें पूरी सावधानी से आगे की सोचते हुए कल को ध्यान में रखते हुए, अपना बिमा Insurance निकल लेना चाहिए। इसका एक फायदा ये है की हम अपनी लाइफ को और अपनी परिवार की लाइफ को अच्छा और सुखकर बना सकते हे। बिमा में ढेर सारे प्रकार होते हे जिनमे गृह बीमा, फसल बीमा, मोटर बीमा, वाहन बीमा, जीवन बीमा, स्वास्थ्य बीमा, व्यवसाय बिमा, और यात्रा बीमा आते हे।

बीमा याने की एक प्रकार का contract  होता है जिसमे बिमा धारक को उसके बिमा निकालने पर Insurance company की तरफ से उस पुरे कालखंड के लिए Financial  security प्रदान की जाती हे। 

आज देखते है की असल में कितने प्रकार के बिमा होते हे। 

गृह बीमा /Home Insurance:

Home Insurance में आते है बिल्डिंग इंश्योरेंस, प्रॉपर्टी इंश्योरेंस, हाउस इंश्योरेंस और होममेड इंश्योरेंस। ये बिमा आपके घर के लिए बनाया गया है जिनमे यदि आपके घर का अगर किसी वजह से नुकसान हो जाता है तो बिमा कंपनी आपको उसकी भरपाई देगी और वो आपके घर को सुरक्षा प्राप्त करेगी। 

अगर समझो आपके घर को बाढ़, आग, या फिर तूफान से हानि या नुकसान पहुँचता हे और आपके घर का नुकसान हो जाता हे तो बिमा कंपनी आपके Home Policy के हिसाब से आपको तय की गयी राशि प्रदान करेगी। 

घर के नुकसान में क्या आता है। इसमें आता हे बाढ़ की वजह से नुकसान, आग की वजह से नुकसान, किसी के घर में चोरी करने के दौरान किये गए नुकसान, भूकंप की वजह से हुआ नुकसान इत्यादि।

फसल बीमा /Crop Insurance:

ये बिमा प्रकार नया हे जो अभी की नयी सर्कार आयी हे इसने इसे लागु किया हे। इसमें अगर आपके फसल को कोई हानि पहुँचती हे और आपकी फसल बर्बाद हो जाती हे तो आपने जो कर्ज लिया था उसके हिसाब से आपको बिमा की राशि प्रदान की जाती हे। 

इसमें अगर बढ़ की वजह से या फिर सूखा या बारिश न होने से आपकी फसल नहीं आती तो आपको उसकी भरपाई मिलेगी।

वाहन बीमा/Vehicle Insurance:

किसी भी वहां का अगर एक्सीडेंट हो जाता हे और अगर आपके वाहन से किसी की हानि या मृत्यु हो जाती हे और उस समय अगर आपका बिमा निकाला हुआ हे तो बिमा कंपनी आपका निकाले गए बिमा के आधार पर सामने वाली पार्टी को मदत प्रदान करती हे और आपकी गाड़ी का जो भी खर्च हुआ है उसे भी देने की कोशिश करती हे। ये वाहन बिमा के तहत आता हे।  

जीवन बीमा/Life Insurance:

Life Insurance में अगर आपकी किसी वजह से मृत्यु हो जाती हे तो आपके परिजनों को इन्शुअरन्स कंपनी कुछ तय की गयी राशि प्रदान करती हे जिसे हम लाइफ कवरेज प्लान कहते हे। इसमें अगर एक्सीडेंट या किसी और वजह से आपि मृत्यु हो जाती हे तो आपको आपकी पालिसी के हिसाब से तय की गयी राशि मिलेगी।

स्वास्थ्य बीमा/Health Insurance:

Health इन्शुरन्स में अगर आपकी या आपके परिवार की जिनकी आपने Health policy निकली हे अगर उनको कुछ हेल्थ प्रॉब्लम आती हे। अगर उनकी कुछ मेजर सर्जरी करनी पड़ी तो health इन्शुरन्स के हिसाब से आपको उस कालखंड के लिए उस सिमा तक तय की गयी राशि या सर्विस प्रदान की जाती है। आपको ध्यान से प्लान को select करना है की Health policy में कितने लोगो को और कितने amount तक राशि दी जाती हे।  

व्यवसाय बीमा/Business Insurance:

बिज़नेस बिमा काफी जरुरी हे। अगर आपने समझो लोन लेके किसी व्यापार को शुरू किया हे। और किसी कारन वश उसमे कुछ नुकसान हो जाया है। तो आपको उससे बाहर निकलने के लिए कुछ तो जरिया होना चाहिए। ये आपके प्रोडक्ट और आपके व्यवसाय को सुरक्षा प्रदान करता है।  

यात्रा बीमा/Travel Insurance:

यात्रा बिमा काफी सरल हे उन लोगो के लिए जिन्हे हर दिन घूमना पड़ता हे। जिन्हे हर दिन यहाँ से बाहर के देश में जाना पड़ता हे। इसमें आपको travel करते समय कुछ हानि पहुँचती हे। अगर आपके सामान को कुछ हानि पहुँचती हे तो आपको आपके तय लिए गए प्लान के हिसाब से कुछ राशि प्रदान की जाती हे। 

How to make free blog and website?

I hope you like my blog post on Insurance comparison. If you like then share it on social media for support and love. जरूर शेयर करना।  

Thank you.